Breaking News
Home / Recent / …और राजस्व कर्मचारी अपहरण कांड निकला हाई वोल्टेज ड्रामा

…और राजस्व कर्मचारी अपहरण कांड निकला हाई वोल्टेज ड्रामा

खगड़िया : बीते 26 जनवरी की सुबह से लापता हुए राजस्व कर्मचारी दिनेश दास अपहरण कांड का पुलिस अधीक्षक मीनू कुमारी ने शुक्रवार को अपने कार्यालय कक्ष में आयोजित प्रेस कांफ्रेंस में पटाक्षेप कर दिया.विगत एक सप्ताह से चल रहे इस हाई वोल्टेज ड्रामे की हकीकत वयान करते हुए पुलिस अधीक्षक ने बताया कि राजस्वकर्मी के अपहरण की जो समय व जगह की जानकारी मिली थी,वह गलत था और उस वक्त उनका टावर लोकेशन खगड़िया की जगह बेगूसराय की मिल रही थी.वहीं खगड़िया स्टेशन के सीसीटीवी फूटेज में उस दिन कर्मी बैग के साथ पूरी तैयारी में काउंटर से टिकट लेते हुए देखे गये.मौके पर पुलिस अधीक्षक ने बताया कि तकनीकी आधार पर की गई जांच में यह बात भी सामने आई कि राजस्व कर्मचारी के द्वारा 26 जनवरी की सुबह ही एक नया सीम लिया गया है.जिस नंबर से वो लगातार कई लोगों से संपर्क कर रहा था.वहीं वो बेगूसराय,पटना,मध्यप्रदेश,महाराष्ट्र होते हुए तमिलनाडू चला गया.जहां वो एक निजी कंपनी में काम कर रहा है.मौके पर पुलिस अधीक्षक ने बताया कि पूरे मामले की जांच जारी है और सदर अंचल कार्यालय को भी जांच के दायरे में रखा गया है.जहां की विभिन्न संचिकाओं व जमीन संबंधित कागजातों को खंगाला जायेगा.साथ ही उन्होंने बताया कि राजस्व कर्मी के गायब होने के मामले की जांच रिपोर्ट एडीजी सीआईडी को भी दी जायेगी और इस प्रकरण में अनुसंधान जारी है.वहीं उन्होंने मामले में आगे भी कुछ चौंकाने वाले तथ्य के सामने आने की संभावना जताई. मौके पर सदर एसडीपीओ रामानंद सागर,सदर इंस्पेक्टर सह एसपी के ओएसडी बासुकीनाथ,नगर थानाध्यक्ष रामदुलार प्रसाद,महिला थानाध्यक्ष किरण कुमारी भी मौजूद थी.

उल्लेखनीय है कि नगर थाना में राजस्व कर्मचारी के अपहरण का मामला दर्ज होने के बाद पुलिस अधीक्षक के द्वारा सदर अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी रामानंद सागर के नेतृत्व में एसआईटी का गठन किया गया था.दूसरी तरफ अपहृत बताये जा रहे कर्मचारी की बरामदगी के लिए उनके परिजन सहित कर्मचारी संघ द्वारा धरना-प्रदर्शन का दौर जारी था.लेकिन मामले की वास्तविकता जब सामने आई तो सभी ने अपने दांतों तले अंगुलिया दबा ली.बहरहाल मामले का उद्भेदन जिला पुलिस प्रशासन के लिए एक बड़ी उपलब्धि मानी जा रही है.वहीं इस खबर के साथ राजस्व कर्मचारी के परिजन व सहकर्मियों ने भी राहत की सांस ली है. हलांकि राजस्व कर्मी के द्वारा खुद के अपहरण होने जैसी हालात क्यों पैदा की गई ? यह देखना भी दीगर होगा.

 

Check Also

स्कूली बच्चों व खिलाड़ियों ने भी निकला कैंडल मार्च

लाइव खगड़िया : जम्मू-कश्मीर के पुलावामा में गुरुवार को हुए आतंकी हमले में शहीद हुए …