Breaking News
Home / Recent / बेटे की मौत का सदमा मां झेल ना सकी,मां-बेटे की साथ-साथ उठी अर्थी

बेटे की मौत का सदमा मां झेल ना सकी,मां-बेटे की साथ-साथ उठी अर्थी




लाइव खगड़िया : जिले के सदर प्रखंड क्षेत्र के मथुरापुर गांव से एक हृदय विदारक घटना सामने आया है. जहां बेटे की मौत का सदमा एक बूढ़ी मां बर्दाश्त नहीं कर सकी और उनकी भी मौत हो गई. जिसके बाद शुक्रवार को मां और बेटे की अर्थी जब संग-संग उठी तो उपस्थित हर शख्स की आंखें नम हो गई. जबकि मृतक के परिजनों के बीच चिख-पुकार मचा रहा. मिली जानकारी के अनुसार मथुरापुर निवासी स्वर्गीय उपेन्द्र प्रसाद चौरसिया के 45 वर्षीय पुत्र सतीश कुमार चौरसिया की बुधवार की रात हार्ट अटैक से मौत हो गई. घटना के बाद घर में रिश्तेदारों का आना शुरू हुआ. इस बीच परिजनों सहित आस-पास के लोगों के द्वारा शोक में डूबी मृतक की मां को ढांढस बंधाया जाता रहा. लेकिन इस सदमे को बूढ़ी मां शांति देवी बर्दाश्त नहीं कर सकी और पुत्र वियोग में गुरुवार की सुबह उन्होंने भी दम तोड़ दिया.




जिसके उपरांत शुक्रवार को मां-बेटे की घर से अर्थी एक साथ निकली और दोनों का दाह-संस्कार किया गया. यह वो मंजर था जिसे देखकर हर किसी की आंखें डबडबा गई. बताया जाता है कि मृतक सतीश प्रसाद चौरसिया का जूली वासिंग पाउडर का व्यापार था. वे अपने पीछे पत्नी और एक बेटा व एक बेटी सहित कुल दो संतान छोड़ गये हैं. दो भाइयों में सतीश प्रसाद चौरसिया छोटे थे. उनके भड़े भाई गौतम कुमार चौरसिया का आयुर्वेद दवा की दुकान है. बहरहाल एक ही घर से दो अर्थी का साथ निकलना परिवार के सदस्यों को अंदर तक झकझोर गया है और घर में मातम पसरा हुआ है.


Check Also

अच्छी पहल : वर्षों पुरानी वर्चस्व की लड़ाई का आपसी सहमति से पटाक्षेप

लाइव खगड़िया : किसी भी समाज में हिंसा व तनाव से किसी समस्या का हल …