Breaking News
Home / Recent / …तो क्या महबूब अली कैसर पकड़ेंगे कांग्रेस का हाथ !

…तो क्या महबूब अली कैसर पकड़ेंगे कांग्रेस का हाथ !




लाइव खगड़िया : आगामी लोकसभा चुनाव के लिए खगड़िया संसदीय सीट विभिन्न गठबंधन के घटक दलों के लिए चू-चू का मुरब्बा बनता जा रहा है.इस कड़ी में एक नाम कांग्रेस का भी जुड़ गया है.मिल रही जानकारी के अनुसार महागठबंधन में सीट बंटवारे को लेकर शनिवार को दिल्ली में आयोजित कांग्रेस की बैठक में पार्टी के विधायक दल के नेता सदानंद सिंह ने कांग्रेस आलाकमान को बिहार के 19 सीटों का एक लिस्ट सौंपा है.जिसमें कुछ लोकसभा क्षेत्र के उम्मीदवारों का नाम भी अंकित बताये जाने की चर्चाएं हैं.मीडिया रिपोर्ट के अनुसार इसमें से एक सीट खगड़िया संसदीय सीट भी है.जहां से वर्तमान लोजपा सांसद चौधरी महबूब अली कैसर के नाम की चर्चाएं हैं.मतलब साफ है कि आगामी लोकसभा चुनाव की घोषणा के पूर्व लोजपा सांसद महबूब अली कैसर के कांग्रेस में लौटने के संकेत मिलने लगे हैं और कांग्रेस की बिहार इकाई उन्हें खगड़िया संसदीय सीट से महागठबंधन के उम्मीदवार के तौर पर उतारना चाहती है.लेकिन यह इतना आसान भी नहीं है.

एक तरफ कांग्रेस की बिहार इकाई प्रदेश में 19 सीटों पर चुनाव लड़ने का मूड दिखा रही है.दूसरी तरफ राजद बिहार में 20 से 22 सीटों पर अपना दावा ठोक रखा है.ऐसे में 40 संसदीय सीट वाले बिहार में राजद व कांग्रेस के दावा से इतर महागठबंधन के अन्य घटक दल के सीटों का क्या होगा.यह एक बड़ा सवाल है.यदि महागठबंधन के घटक दलों के बीच सीटों के बंटवारे में सहमति नहीं बनी तो माना जा सकता है कि कांग्रेस महागठबंधन से अपनी राहें जुदा कर ले.ऐसे में मधेपुरा के सांसद पप्पू यादव की पार्टी जाप अगामी चुनाव में कांग्रेस का नया हमसफर बन सकता है.बावजूद इसके लोजपा सांसद चौधरी महबूब अली कैसर की राह आसान नहीं दिख रही है.




जाप के राष्ट्रीय संरक्षक पप्पू यादव पूर्व से ही खगड़िया सहित मधेपूरा व पूर्णिया पर अपनी पार्टी जाप की दावेदारी जताते रहे हैं.यदि कांग्रेस महागठबंधन से अलग होती है तो जाप की दावेदारी खगड़िया संसदीय सीट पर और भी मजबूत हो सकता है.बावजूद इसके खगड़िया संसदीय सीट कांग्रेस के कोटे में रही तो कांग्रेस के स्थानीय कार्यकर्ता अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के सचिव डॉ. चंदन यादव पर उम्मीद लगाये हुए है.हाल ही में पटना में आयोजित कांग्रेस के जन आकांक्षा रैली की सफलता को लेकर डॉ.चंदन यादव ने क्षेत्र में खूब पसीने भी बहाये थे.जिसे राजनीतिक पंडित के द्वारा आगामी चुनाव में उम्मीदवारी को लेकर किये जा कवायद के तौर पर ही देखा जा रहा था.बहरहाल भले ही कांग्रेस के बिहार इकाई ने खगड़िया संसदीय सीट के लिए महबूब अली कैसर का नाम कांग्रेस हाई कमान को सौंप दी हो,बावजूद इसके आगामी लोकसभा चुनाव में कैसर की राह उम्मीदवारी को लेकर बहुत आसान भी नहीं दिख रहा है.



Check Also

गांव-गांव जाकर पीड़ित परिवार से मिले पप्पू यादव, दिया न्याय दिलाने का आश्वासन

लाइव खगड़िया :  जन अधिकार पार्टी (लो.) के राष्ट्रीय अध्यक्ष राजेश रंजन उर्फ पप्पू यादव …