Breaking News
Home / Recent / बेगूसराय बालिका गृह को सौंपा गया यूपी की दोनों बहन

बेगूसराय बालिका गृह को सौंपा गया यूपी की दोनों बहन




लाइव खगड़िया (मुकेश कुमार मिश्र) : सौतेली मां से परेशान दो बहन के किस्से जिले के परबत्ता प्रखंड बाजार में चर्चा का विषय बना रहा.हलांकि दोनों बहनें उत्तर प्रदेश की रहने वाली हैं लेकिन किस्मत उन्हें परबत्ता ले आई.

मिली जानकारी के अनुसार जिले के नौरंगा निवासी स्वर्गीय वकील दास की पत्नी बाजो देवी  बीते 31 दिसंबर को उत्तर प्रदेश के कानपुर शहर में सत्संग सुनने को गई थी.जहां उनकी मुलाकात 15 वर्षीय कविता कुमारी व 13 वर्षीय निशा कुमारी से हुई. दोनों आपस में बहनें बताई जा रही हैं.बताया जाता है कि दोनों बहनों के द्वारा बाजो देवी को बताया गया कि उनकी मां मर चुकी है और पिता व सौतेली मां उन्हें पिटते हैं.साथ ही दोनों बहनों ने रोते हुए बाजो देवी को अपने साथ ले चलने का अनुरोध किया.जिसके उपरांत बाजो देवी दोनों बहन को कानपुर से अपने साथ लेकर जिले के परबत्ता प्रखंड के नौरंगा अपने गांव चली आई.



लेकिन शनिवार को छोटी बहन निशा कुमारी यह कहकर नौरंगा से भागने लगी कि मुझे यहां मन नही लग रहा है और हम सतौली मां के पास ही रहूंगी.इस क्रम में निशा को मनाने उसकी बहन कविता कुमारी और बाजो देवी भी परबत्ता बाजार पहुंची.लेकिन मामले की सूचना स्थानीय लोगों के द्वारा परबत्ता थाना की पुलिस को दे दिया गया.

सूचना मिलते ही परबत्ता थाना की पुलिस ने दोनों बहनों को अपने कब्जे में लिया और इसकी सूचना चाईल्ड हेल्प लाइन के ब्लॉक कॉर्डिनेटर संजय कुमार को दी गई.संजय कुमार के द्वारा मामले की सूचना बाल कल्याण समिति को दिया गया.

जिसके उपरांत रविवार को कागजी प्रक्रिया पूर्ण करने के उपरांत बाल कल्याण समिति खगड़िया के निर्देशानुसार संजय कुमार ने दोनो बहनों को बालिका गृह बेगुसराय को सौप दिया.दोनो बहनें अपने पिता का नाम पप्पू सरोज बता रही है.जो उत्तर प्रदेश के इलाहाबाद जिले के नबाबगंज थाना क्षेत्र के हुसैनपुर गांव के निवासी बताये जा रहे हैं.

Check Also

अच्छी पहल : वर्षों पुरानी वर्चस्व की लड़ाई का आपसी सहमति से पटाक्षेप

लाइव खगड़िया : किसी भी समाज में हिंसा व तनाव से किसी समस्या का हल …