कोरोना वायरस : 31 मार्च तक बस सेवा, रेस्तरां व बैंक्वेट हॉल बंद – Live Khagaria
Breaking News

कोरोना वायरस : 31 मार्च तक बस सेवा, रेस्तरां व बैंक्वेट हॉल बंद



लाइव खगड़िया : कोरोना वायरस संक्रमण के तृतीय चरण में भीड़भाड़ से सामुदायिक संक्रमण की संभावनाओं को देखते हुए बिहार सरकार के निर्देश पर जिला प्रशासन ने एतियात के तौर पर कई महत्वपूर्ण कदम उठाये हैं. जिसको लेकर जिलाधिकारी आलोक रंजन घोष के द्वारा निर्देश जारी किया गया है. इस क्रम में मां कात्यायनी मंदिर सहित अन्य धार्मिक स्थलों पर मेला या सांस्कृतिक कार्यक्रम के आयोजन पर रोक लगा दी गई है. इस संदर्भ में बिहार राज्य धार्मिक न्यास परिषद के दिशा-निर्देश पर सभी धार्मिक स्थल, कबीर मठ, रामजानकी मंदिर, ठाकुरबाड़ी, शिव मंदिर, हनुमान मंदिर, काली मंदिर, सूर्य मंदिर आदि के न्यासी/महंत/पुजारी को 31 मार्च तक परिसर में आयोजन नहीं करने को निर्देशित किया गया है. वहीं मंदिर में महंत या पुजारी सहित अधिकतम तीन व्यक्तियों की उपस्थिति में ही पूजा कार्य संपादित करने को कहा गया है.




कोरोना वायरस के संक्रमण को फैलने से रोकने एवं बचाव के दृष्टिकोण से बिहार लोक सेवाओं का अधिकार अधिनियम के अंतर्गत पंचायत सरकार भवन, प्रखंड सह अंचल कार्यालय, अनुमंडल कार्यालय एवं जिला समाहरणालय के आरटीपीएस काउंटरों पर भौतिक रूप से आवेदन पत्र प्राप्त करने की व्यवस्था पर भी 31 मार्च तक रोक लगा दी गई है. इन कार्यालयों में ऑनलाइन आवेदन दायर करने की सुविधा जारी रहेगी. साथ ही बिहार लोक शिकायत निवारण अधिकार अधिनियम के अंतर्गत अनुमंडल व जिला मुख्यालय के लोक शिकायत प्राप्ति काउंटर पर भी भौतिक रूप से परिवाद/अपील/पुनरीक्षण व आवेदन प्राप्त करने की व्यवस्था को भी 31 मार्च तक के लिए स्थगित कर दिया गया है. वहीं बिहार लोक शिकायत निवारण अधिकार अधिनियम के तहत सभी सुनवाईयों को भी 31 मार्च तक के लिए रोक दिया गया है. साथ ही इस दौरान रजिस्ट्री ऑफिस भी बंद रहेंगे. जेल में कैदी से मुलाकती पर भी पाबंदी लगा दी गई है.




जिले के सभी रेस्टोरेंट एवं होटलों व बैंक्वेट हाल को 31 मार्च तक बंद करने का निर्देश दिया है. 31 मार्च तक के लिए निजी बसों के परिचालन पर भी रोक लगा दिया गया है. उधर सरकारी बसों के परिचालन पर भी सरकार के द्वारा पाबंदी लगाई गई है. सरकारी अस्पताल के जेनरल ओपीडी सेवा को भी बंद कर दिया गया है. इस दौरान मेडिकल सहायता के लिए लोगों को 104 नंबर पर कॉल करना होगा और मरीजों को घर पर ही सेवा मिल जायेगी. जबकि मरीजों को अस्पतालों में इमरजेंसी सेवाएं मिलती रहेगी.



Check Also

मजबूरी कुछ ऐसी थी कि भाग ना सका वो,घर में आग लगने से झुलसा युवक

लाइव खगडिया (मुकेश कुमार मिश्र) : जिले के मड़ैया थाना क्षेत्र के मड़ैया में मंगलवार …